माउस का आविष्कार किसने किया

Spread the love

आज के समय बहुत से लोग कंप्यूटर के इस्तेमाल करते हैं लेकिन बहुत से लोग के पाता नहीं होता है कि  माउस का आविष्कार किसने किया बहुत से ऐसे लोग मौजूद हैं जिनको इसके बारे में बिल्कुल जानकारी नहीं है|

कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाली हर part के अलग-अलग बेसिक जानकारी होती है जिसमें एक महत्वपूर्ण part भी है जिसे हम माउस कहते हैं आप तो जानते ही होंगे कि इसका काम क्या है दरअसल मैं आपको माउस के अविष्कार के बारे में बताऊंगा की माउस का आविष्कार किसने किया था|

माउस का आविष्कार किसने किया

जैसे कि आप जानते हैं कंप्यूटर में इस्तेमाल होने वाले मॉनिटर,कीपैड ठीक उसी प्रकार माउस भी जी से हम कंप्यूटर में इस्तेमाल करते हैं माउस कंप्यूटर के स्क्रीन के सारे कुछ को कंट्रोल कर सकता है मैं साधारण भाषा में कहूं तो कंप्यूटर को ऑपरेट करने के लिए माउस के महत्वपूर्ण डिवाइस है माउस के बिना कंप्यूटर को ऑपरेट करना बिल्कुल असंभव है |

Captcha Code Kya Hai

क्योंकि माउस ले उन कोई भी काम जल्दबाजी में करते हैं अगर माउस ना होगा तो काम करने में थोड़ा कठिन होगी इसलिए कंप्यूटर में महत्वपूर्ण part माउस है|

 माउस क्या है?

माउस एक इनपुट डिवाइस है जिसका इस्तेमाल कंप्यूटर के intract करने के लिए किया जाता है इसका इस्तेमाल कंप्यूटर में स्क्रीन को कंट्रोल करने के लिए किया जाता है और इसका इस्तेमाल कंप्यूटर में चालू करने और बंद करने के लिए किया जाता है|

माउस को इस्तेमाल करने वाले व्यक्ति अपने कंप्यूटर में माउस को कार्य करने के लिए निर्देश देता है इसके द्वारा यूजेस कंप्यूटर में कहीं पर भी पहुंच सकता है|

माउस के अलग-अलग मॉडल भी होते हैं और अलग-अलग फीचर और कनेक्टिविटी भी होती है लेकिन सभी मॉडल में 2 button and एक स्कॉलर होता है

माउस के इंटरफ़ेस कुछ अलग होता है जो कि कंप्यूटर या किसी दूसरे सिस्टम के साथ बहुत ही आसानी से जुड़ सकता है तो आइए हम माउस के बारे में कुछ और जानकारी जानते हैं|

माउस का आविष्कार किसने किया

माउस का आविष्कार साल 1963 में ‘डगलस एंगेलबर्ट‘ ने किया था जोकि एक अमेरिकन इंजिनियर और आविष्कारक थे

माउस का फुल फॉर्म क्या होता है?

माउस का फुल फॉर्म Manually Operated Utility For Selecting Equipment होता है

माउस  का हिंदी में नाम कुछ इस प्रकार करते हैं जैसे कि आप देख सकते हैं “उपकरण के चयन के लिए मैन्युअल रूप से संचालित उपयोगिता“.

Ip Address Kya Hai

Sharechat Kya Hai

माउस का इतिहास

Douglas Engelbart ने बनाया था जिस जिस में चाकू की धार वाली पहिया को लगाया गया था इसमें केवल एक ही बटन थी Douglas Engelbart मैं मुख्य रूप से एक लकड़ी का प्रोटोटाइप बनाया था यह लकड़ी का माउस पूरा दुनिया के devices  के साथ जोड़ने वाला था

Douglas Engelbart 1961 में सम्मेलन के व्याख्यान पर इस माउस का कल्पना किया था और उन्होंने 1963 में माउस का निर्माण कर दिया यांत्रिक क्षेत्र मापने वाले पहिया का इसमें इस्तेमाल किया गया |

 कंप्यूटर किसने बनाया और कब बना?

SRI इंजीनियर बिल इंग्लिश ने पहला Douglas Engelbart माउस का invention हुआ था जो कि उस समय Xerox PARC मैं काम करता था माउस को originally X-Y Position Indicator भी कहा जाता है जिसका इस्तेमाल डिस्पले स्क्रीन पर किया जाता है यह उस समय इतना पॉपुलर हुआ कि आज कंप्यूटर में इस्तेमाल किया जाता है |

Douglas Engelbart ने 1961 में सोचा था और जाकर 1963 में माउस का निर्माण कर दिया इसका डिजाइन कुछ पहिया जैसा था 1810 में  आविष्कार किया गया कंप्यूटर  Douglas Engelbart मैं 20 साल पहले ही माउस अविष्कार कर लिया था |

माउस कितने प्रकार का होता है?

Ok Ka Full Form Kya Hai

Atm Ka Full Form Kya Hai

आज के टाइम में माउस के आने कर verty मार्केट में उपलब्ध है जिसमें कुछ न कुछ अलग अलग न्यू न्यू टेक्नोलॉजी होते हैं जिनका काम अलग-अलग functions को होता है |

  • Optical Mouse
  • Mechanical Mouse
  • Corded Mouse
  • Cordless/Wireless Mouse

इन चारों के कारण अलग-अलग है जिसका मैं विस्तार से किसी अगले पोस्ट में आपको बताऊंगा या हो सके तो मैं इस पोस्ट को फिर से एडिट करते समय इसके बारे में पूरे विस्तार से लिखूंगा

 माउस का इस्तेमाल कैसे करते हैं?

जैसे कि आप सब जानते हैं माउस को इस्तेमाल करने से कितना कम समय में हमारा अधिक काम हो सकता है इसलिए माउस को कंप्यूटर में होना बहुत महत्वपूर्ण है अगर आपके पास माउस नहीं है तो आप काम तो कर सकते हैं बट थोड़ा धीरे-धीरे काम करो लेकिन माउस होगा तो आपका काम बहुत तेजी से होगा हम तो आप जानते हैं कैसे करते हैं|

 निष्कर्ष

मुझे उम्मीद है कि आपको  माउस का आविष्कार किसने किया ? माउस के आविष्कारक कौन थे? माउस के जन्मदाता कौन है?  इन सभी प्रश्न का उत्तर आपको इस आर्टिकल में मिल गया होगा अगर आपको मेरे द्वारा लिखे गए आजकल मैं कहीं भी एडिट करवाना चाहते हैं तो आप हमें प्यारा सा कमेंट में कमेंट करके आप उसको आर्टिकल को एडिट करवा सकते हो|

फिर भी मेरे द्वारा लिखे गए इस आर्टिकल को पढ़ने में आपको कुछ नई जानकारी मिली है तो आप से यही अनुरोध है कि आप हमारे इस आर्टिकल को सोशल मीडिया पर शेयर करना ना भूले शेयर करने से यह होगा कि आपके दोस्त यार इस बार इस आर्टिकल को पढ़कर कुछ न कुछ नया सीख सकते हैं|

हमारा यही कोशिश रहती है कि मैं अपने पाठकों के लिए अच्छे से अच्छे कॉन्टेंट अपनी साइट पर अपलोड करो जिससे उसको कुछ अच्छे से अच्छे जानकारी मिले और उसको किसी भी अन्य वेबसाइट पर जाने की कोई आवश्यकता ना हो हमारी वेबसाइट को सारे के सारे जानकारी प्रदान हो


Spread the love

Leave a comment